loading...

ऐसी पांच बातों का अनुभव शादी करने के बाद ही किया जा सकता है


 शादी को लेकर अक्सर ये बात कही जाती है कि ये एक ऐसा लड्डू है जिसे खाने वाला भी पछताता है और नहीं खाने वाला भी पछताता ही है। शादी जैसे रिश्ते को निभाने के लिए सबसे जरूरी यही है कि पति-पत्नी समझदारी से काम लें और मिलकर हर समस्या का समाधान करने की कोशिश करें। फिर शादी का लड्डू खाने वाला कभी नहीं पछताता। शादी के बाद बहुत सी चीजें बदल जाती हैं। ये कुछ ऐसे बदलाव होते हैं जिनके बारे में आपको कोई समझा नहीं सकता और न ही उनसे उबरने का तरीका ही बता सकता है।
                               

1. अगर आप अकेले हैं तो शादी आपके जीवन की इस कमी को कुछ हद तक दूर कर सकती है लेकिन शादी कर लेना हर समस्या का समाधान नहीं है। जीवन की कई समस्याओं को दूर करने के लिए आपको ही प्रयास करना होगा।


2. माना की शादी दो लोगों को जोड़ने का काम करती है लेकिन शादी के बार हर समय अपने पार्टनर के साथ रहना, न तो उसे कहीं अपने बिना जाने देना और न तो खुद जाना, गलत है। ये सोचना गलत है कि हर समय साथ रहने से ही आप दोनों के बीच प्यार बना रहेगा।


3. शादी के दिन दूल्हा और दुल्हन दोनों के ही चेहरे पर एक अलग नूर होता है। शादी के कुछ समय बाद चीजें पहले की तरह नहीं रह जाती हैं और लड़का-लड़की खुद पर ध्यान देना थोड़ा कम कर देते हैं।

4. शादी के दौरान तमाम तरह की कसमें खाई जाती हैं कि हमारे बीच का प्यार हमेशा बना रहेगा लेकिन सच्चाई ये कि समय के साथ प्यार का रूप बदलने लगता है। ऐसे में इस बात के लिए तैयार रहना ही बेहतर होगा।

5. शादी के दिन शायद ही कोई ऐसा होता होगा जो ये सोचता होगा कि उसे कभी अपने पार्टनर से नफरत हो जाएगी। पर शादी के कुछ सालों बाद कभी-कभी किसी बात को लेकर कलह इस कदर बढ़ जाती है कि मन में एक ही ख्याल आता है, काश शादी ही नहीं की होती तो अच्छा रहता…।