loading...

एक कुंवारे की दुखभरी शायरी...


उधार भी गजब चीज है...
.
पहले लेने वाला गिड़गिड़ाता है...
.
.
बाद में देने वाला...!

                                            ****************

एक कुंवारे की दुखभरी शायरी...
.
इतनी भी नफरत न करो मुझसे
ऐ लड़कियों..
.
.
मै इंसान हूं, कोई लौकी की सब्जी नहीं...!