loading...

औरत ही औरत की दुश्मन होती है...


हवा की लहर बनकर, तू मेरी खिडकी न खटखटा,
मैं बंद कमरे में बैठा हूं…. तूफान से सटा

.
.

.
.

यहां कवि Girl Friend को बता रहा है मिस काल मत देना, बीवी पास बैठी है।

                                                          ****************

औरत ही औरत की दुश्मन होती है...
.
विश्वास न हो तो...
.
अपनी गर्लफ्रेंड को अपनी...
.
बीवी से मिलवा कर देख लो...!